शनिवार, 5 मई 2012

सालों बाद जब मिला तो गले लग कर बहुत रोया ,
जाते हुए जिसने कहा था कि तुम जैसे हजार मिलेंगे।



 

1 टिप्पणी:

  1. बहुत खूब...
    पर इसका उल्टा भी होता है-

    मुझे मालूम है कल याद भी बाकी न रहेगी
    आज जिनको दोस्ती पे मेरी नाज़ है बहुत।

    उत्तर देंहटाएं